Metaverse क्या है | Metaverse कैसे काम करेगा?

Metaverse क्या है | Metaverse कैसे काम करेगा?
आज कल इन्टरनेट इतनी तेजी से बढ़ रहा है कि लोग रियल वर्ल्ड से ज्यादा समय वर्चुअल वर्ल्ड में बिताने लगे है, ऐसे में वर्चुअल वर्ल्ड उनके जीवन का एक हिस्सा बन गया है।अभी हाल ही में एक नाम सुनने में आ रहा है “metaverse” ये भी भविष्य में उपयोग में आने वाली ऐसी ही एक टेक्नोलॉजी है। लेकिन आपको पता है कि metaverse क्या है, और metaverse आने वाले समय मे क्या परिवर्तन लाने वाला है।
आज कल सबकुछ इतना डिजिटल हो गया है कि हमारा इंटरनेट से ध्यान ही नही हटता है,बच्चे भी बाहरी खेलो को छोड़ कर दिनभर अपने कंप्यूटर या मोबाइल फ़ोन में गेम्स खेलते है । ऐसे में ये metaverse क्या है जो पूरे इंटरनेट को बदल के रख देगा। मान लीजिये आपको कही जाना है घूमने लेकिन किसी वजह से आपका वो प्रोग्राम कैंसिल हो जाता है और आप निराश हो जाते है , लेकिन एक ऐसी टेक्नोलॉजी हो जिससे आप घर बैठे बैठे उस जगह को घूम भी ले और एक्सपीरियंस भी करले तो यह कितनी अच्छी बात होगी। metaverse भी कुछ ऐसी ही टेक्नोलॉजी है, इंटरनेट की दुनिया को बदल के रख देगी और आपको पूरी तरह से वर्चुअल वर्ल्ड से जोड़ देगी। तो चलिए इसको औऱ अच्छे से समझते है कि Metaverse क्या होता है।

Metaverse क्या है?

Metaverse एक तरह का वर्चुअल वर्ल्ड है, जिसमे आप एक अलग तरह का एक्सपीरियंस लेने वाले है , आप Virtual world को real real की तरह जियेंगे, जहा आप वो सबकुछ कर सकते है, जो आप रियल वर्ल्ड में नही कर पाते। आप दूर बैठे किसी से भी बात कर सकते है, और जब आप बात करेंगे तो आपको ऐसा लगेगा जैसे वो आपके पास ही है।
इस virtual world में आपको वो सब करने के लिए मिलेगा जो आप करते है जैसे घूमना, रेस्तरॉ जाना, गेम खेलना सबकुछ। जैसा आपने दूसरे गेम्स जैसे bgmi या freefire में देखा होगा। उसमे जो characters होते है वो रियल जैसे लगते है और आपको अनुभव होने लगता हूँ कि आप खुद उस गेम में हो। metaverse virtual और Augmented artificial technology का उपयोग करके बनाया गया एक 3D world है , जैसे हम कोई 3D movie देख रहे हो।

Metaverse शब्द का अर्थ क्या है

Metaverse दो अलग अलग शब्दो से मिल कर बना है meta और verse, यहां पर meta शब्द का अर्थ होता है परे मतलब किसी चीज से परे होना। और verse शब्द unvierse से लिया गया है जिसका अर्थ होता है ब्रह्मंड और अगर इन दोनों शब्दो को मिला दे तो बनता है metaverse, और metaverse शब्द का अर्थ होता है ब्रह्मंड से परे। मतलब एक अलग दुनिया ।

Metaverse कैसे काम करेगा

ये कहना निश्चित तो नही पर metaverse एक वर्चुअल वर्ल्ड की तरह काम करेगा जिसकी कोई लिमिट्स नही है । यहां आप जो चाहे कर पाएंगे जब चाहे कर पाएंगे, अलग अलग characters होंगे, अलग अलग कंपोनेंट्स होंगे, हो सकता है अलग अलग टास्क भी हो।
आप कही भी बैठे हुए हो, लेकिन metaverse में आप कही भी घूम पाओगे, अपने दोस्तों से मिलने का अनुभव कर पाओगे जैसे आप उनके पास ही हो, सबकुछ आपको रियल जैसा लगने लगेगा।
आपका खुद का एक अवतार होगा जिसको आप अपनी पर्सनलिटी के अनुसार बना सकते है।आप अलग अलग कंपनेंट्स का उपयोग कर सकते है, जैसे किसी कैसिनो में जाना या कोई कॉन्सर्ट अटेंड करना।
हो सकता है यहां आपको बिल्डिंग्स और cars का अनुभव भी करवाया जाए जहा आप रह सकते है, उन cars को चला पाए।
जब चाहे अपने दोस्तों के साथ कोई गेम खेल ले फिर मन करे तो कही भी गेम छोड़ कर घूमने चले जाएं, आप पर किसी प्रकार की कोई पाबंदी नही रहेगी कि आपको वो चीज पूरी करना ही है।

Metaverse का उद्देश्य क्या है

अब सबके मन मे ये सवाल तो आ ही रहा होगा कि metaverse का उद्देश्य क्या है? तो metaverse का उद्देश्य internet को एक अलग लेवल पर ले जाना है।
डिजिटल वर्ल्ड को पूरी तरह से बदल देना है।लोगो को उन चीजों का एक्सपेरिएंस करवाना है, जो वो कभी कर नही पाते है।
Metaverse का एक उद्देश्य ये भी है कि virtual world को एक अलग ही रूप देना है। लोगो को एक दूसरे से ऐसे जोड़ना है जैसे वो सच मे एक दूसरे के पास हो। अपनी एक अलग दुनिया बनाना है।
आपने देखा होगा कि facebook भी इसके सहयोग में आगे आया है और फेसबुक ने अपना नाम बदल कर Meta कर दिया है। फेसबुक ने metaverse पर काम करना भी शुरू कर दिया है।

Metaverse के क्या लाभ है

हर चीज के अपने कुछ फायदे होते है वैसे ही metaverse के भी बहुत सारे फायदे है जैसे इटनेरनेट को एक नए लेवल पर ले जाना। virtual world को देखने का पूरा नजरिया बदल देना।लोगो को ऐसी दुनिया प्रदान करना जहा वो सबकुछ करने में सक्षम हो। लोगो के एंटरटेनमेंट का भी ध्यान रखना।लोगो को एक दूसरे से जोड़ना। टेलिपोर्ट जैसी शक्ति का अनुभव करवाना।जैसे कोई इन्सान एक जगह बैठे बैठे कुछ ही सेकण्ड्स में कही भी चला जाये, और ये सब होगा metaverse के virtual world में।

Metaverse के नुकसान क्या है

हर चीज फायदे के साथ साथ नुकसान भी लेकर आती है जहाँ किसी चीज से फायदा हो रहा है वही दूसरी और उससे नुकसान होने की संभावना भी होती है। वैसे ही metaverse के भी कुछ नुकसान है जैसे लोग रियल वर्ल्ड में रहने की आदत छोड़ने लगेंगे।
इसके लिए जो high radiation वाले डिवाइस का उपयोग होगा वो हमारे मस्तिष्क और शरीर को नुकसान पहुचाएंगे। इसके लिए लोगो को कुछ ज्यादा पैसे भी खर्च करना पड़ेंगे। बच्चों की पढ़ाई पर भी इसका असर पड़ेगा।

Conclusion:

अब आपको समझ आ ही गया होगा कि metaverse क्या होता है, और भविष्य में metaverse कैसे काम करेगा। साथ ही साथ आपको metaverse का उद्देश्य और metaverse के लाभ हानि का भी पता चल गया है कि इससे हमे एक ओर कुछ लाभ है तो वही दूसरी ओर हानि भी। लेकिन बहुत सारी बड़ी बड़ी कंपनियों ने इस पर काम करना शुरू कर दिया है । और metaverse हमारे जीवन में कुछ नया लेकर आ रहा है। तो हमे इसे एक्सेप्ट करने के लिए तैयार रहना चाहिए और अनुभव करना चाहिए कि metaverse कैसे काम करेगा।

इसे भी पढ़ें: